XXX का अश्लील फिल्मों तथा पत्र के अंत में इस्तेमाल क्यों!!

XXX का अश्लील फिल्मों तथा पत्र के अंत में इस्तेमाल क्यों!!

xxx

क्या आप जानते हैं कि XXX का अश्लील फिल्मों के लिए क्यों इस्तेमाल होता है?

जब मूवी रेटिंग प्रणाली पहली बार बनाई गई थी, तब वे फिल्मों जिसमें हिंसा या अश्लीलता (sexuality) की मात्रा बहुत अधिक होती थी, उसके लिए X का इस्तेमाल होता था। उस समय फिल्म निर्माताओं की तरफ से शिकायतें आने लगी कि सार्वजनिक सिनेमाघरों में प्रसारित अश्लील फिल्मों (porn movies) और वे फिल्म जिसमें वास्तविक यौन संबंध का प्रदर्शन नहीं था, उन्हें एक ही प्रकार की रेटिंग X प्राप्त हो रही थी ।

इस समस्या को दूर करने के लिए अमेरिका में दो नई रेटिंग सिस्टम बनाये गये R और NC-17 तथा पुरानी X रेटिंग को छोड़ दिया गया। R रेटिंग से तात्पर्य था कि इस प्रकार की फिल्मों को 17 साल से कम उम्र के बच्चे माता-पिता के साथ ही देख सकते हैं। एनसी-17 रेटिंग वाली फिल्मों को देखना बच्चों के लिए किसी भी तरह मान्य नहीं था क्योंकि इनमें अश्लीलता की भरमार होती थी।

पर हुआ यह कि उस समय सार्वजनिक सिनेमाघरों में प्रसारित होने वाले अश्लील फिल्मों के निर्माताओं ने पुराना X का इस्तेमाल जारी रखा क्योंकि जब भी जनता रेटिंग X सुनती थी तो उनके मन में अश्लील फिल्मों (porn movies) का ही विचार आता था। आगे चलकर पोर्न इंडस्ट्री (porn industry) ने अधिक बिक्री करने के लिए XXX का उपयोग शुरू किया जिससे उनका तात्पर्य था कि यह अत्यंत अश्लील फिल्म है।

अगर XXX अश्लीलता के लिए इस्तेमाल होता है तो अक्सर पत्र या लेख के अंत में XXX भला क्यों लगाया जाता है?

X का तात्पर्य ग्रीक अक्षर chi जिसका उच्चारण ची chi है जो कि बार-बार बोलने में किस (Kiss) ‘चुम्बन’ का ध्वनि देता है। यह निशान देखने में दो लोगों का गले मिलते हुए सा प्रतीत होता है। अतः XXX का प्रयोग प्राप्तकर्ता के प्रति प्रेम प्रदर्शित करने के लिए किया जाने लगा जिसका प्रयोग शुरू-शुरू में परिवार को लिखे गये पत्रों (letters and articles) में इस्तेमाल होता था जो कि आज सर्वव्यापी इस्तेमाल में आने लगा है।

Also Read : कदमताल पर प्रकाशित रोचक जानकारियाँ


आपको यह रोचक जानकारी XXX का अश्लील फिल्मों तथा पत्र के अंत में इस्तेमाल क्यों!!  Why XXX used in adult movies and also at the end of the letters कैसा लगा, कृप्या कमेंट बाक्स पर साझा करें। अगर आपके पास विषय से जुडी और कोई जानकारी है तो हमे kadamtaal@gmail.com पर मेल कर सकते है |

आपके पास यदि Hindi में कोई motivational article, story, essay है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें. हमारी Email Id है: kadamtaal@gmail.com. हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ प्रकाशित करेंगे.

Random Posts

  • hope in hindi उम्मीद न छोड़ें! सफलता अवश्य मिलेगी।

    उम्मीद न छोड़ें! सफलता अवश्य मिलेगी। Dont Loose Hope in Hindi हम सभी अपने प्रोफेशन जीवन की यात्रा बहुत से सपनों, लक्ष्यों, उम्मीदों और प्रेरणाओं के साथ आरम्भ करते हैं। […]

  • लघु हिंदी कहानी बंदर और मछली | स्वर्ग और नरक Moral stories in Hindi

    बंदर और मछली | स्वर्ग और नरक Moral stories in Hindi छोटी-छोटी कहानियाँ भी हमें बहुत बड़ी सीख दे जाती हैं। नीचे दो लघु हिंदी कहानियाँ (short moral stories) दी […]

  • gandhi ansuni kahani गांधी जी के हनुमान | एक अनसुनी कहानी

    गांधी जी के हनुमान | एक अनसुनी कहानी 1926 के पूरे सालभर गांधी जी ने साबरमती और वर्धा-आश्रम में विश्राम किया। उसके बाद वे देश भर में भ्रमण के लिए […]

  • savitri सती सावित्री (Sati Savitri)

    सती सावित्री Story Sati Savitri and Satyavan in Hindi मद्रदेश के राजा अश्वपति धर्मात्मा एवं प्रजापालक थे। उनकी पुत्री का नाम सावित्री था। सावित्री जब सयानी और विवाह योग्य हो […]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*
*