निरोग रहने हेतु दादी माँ के घरेलू नुस्खे – Home Remedies

निरोग रहने हेतु दादी माँ के घरेलू नुस्खे – Home Remedies in Hindi

सदियों से घरेलू  इलाज के लिए कुछ नुस्खे (home remedies) अजमाये जाते रहे हैं जो कि एक पीढ़ से दूसरी पीढ़ी में अनुभव के आधार पर आगे बढ़ता रहा है। हम सब की दादी-माता जी को कई नुस्खे तो याद रहते हैं लेकिन बहुत सारे कई बार दिमाग से निकल भी जाते हैं। नीचे 25 नुस्खे दिये गये हैं जो कि कुछ आम रोगों में बहुत लाभदायक हैं। आप निरोग रहने हेतु दादी माँ के ये घरेलू नुस्खे (dadi maa ke gharelu nuskhe) अजमाये इनका कोई साइड अफेक्ट भी नहीं है और रामबाण की तरह कार्य करते हैं।

  1. दाद – दाद पर नींबू का रस 20 दिनों तक लगाने से दाद गायब हो जायेगा।
  2. बालतोड़ में दूध को फिटकरी से फाड़कर कपड़े में रखकर बालतोड़ पर बांधें।
  3. रूसी – कपूर और नारियल तेल मिलाकर लगायें। इससे रूसी में राहत मिलेगी।
  4. मुख दुर्गन्ध – भोजन के बाद 5 तुलसी के पत्ते खाने से मुख से बास नहीं आती है।
  5. बच्चों के पेट में कीड़े – छोटे बच्चों के पेट में कीड़े हों तो सुबह एवं शाम को प्याज का रस गरम करके, एक प्याला पिलाने से कीड़े अवश्य जाते हैं।
  6. हिचकी – कुटकी के चूर्ण को शहद में मिलाकर चटाने से उनकी हिचकियाँ दूर होती हैं।
  7. चेहरे के मस्से के लिए काली मिर्च और फिटकरी बराबर-बराबर चेहरे पर लेप करें तथा सींक से मस्सों में लगायें।
  8. आग से जल जाने पर – कच्चे आलू को पीसकर, उसका रस निकाल लें, फिर जले हुए स्थान पर उस रस को लगाने से आराम मिलता है।
  9. खांसीं – भुनी तथा कच्ची बराबर-बराबर अजवायन पीस कर शाम को फंकी मारें, पानी न पियें, खांसीं में लाभ होगा।
  10. मुंह के छाले – पका हुआ केला और शहर मिलाकर खाने से तुरंत राहत मिलती है आप इसका पेस्ट बनाकर मुंह में भी लगा सकते हैं।
  11. खाज खुजली – नीम और तुलसी के पत्ते मिलाकर खायें भी और लगाये भी।
  12. सरसों के तेल में नमक मिलाकर मंजन करने से दांतों में चमक तथा पायरिया में भी लाभ होता है। मुंह की दुर्गन्ध दूर हो जाती है।
  13. कानदर्द – प्याज पीसकर उसका रस कपड़े से छान लें। फिर उसे गरम करके चार बूंद कान में डालने से कान का दर्द समाप्त हो जाता है।
  14. फोड़े – नीम की मुलायम पत्तियों को पीसकर गाय के घी में पकाकर फोड़े पर हलके कपड़े के सहारे बांधने से पुराने फोड़े भी ठीक हो जाते हैं।
  15. कब्ज दूर बन्द करने हेतु – एक बड़े साइज का नींबू काटकर रात्रि भर ओस में पड़ा रहने दें। फिर प्रातःकाल एक गिलास चीनी के शरबत मेें उस नींबू को निचोड़कर तथा शरबत में नाममात्र का काला नमक डालकर पीने से कब्ज निश्चिित रूप से दूर हो जाता है।
  16. कोमल अमरूद की पत्ती चबाने से मुंह के छालों में लाभ होता है, साथ में चने के सत्तू को पानी में घेलकर पीयें।
  17.  दांत दर्द – हल्दी एवं सेंधा नमक महीन पीसकर, उसे शुद्ध सरसों के तेल में मिलाकर सुबह-शाम मंजन करने से दांतों का दर्द बंद हो जाता है।
  18. जुकाम – एक पाव गाय का दूध गर्म करके उसमें 10-12 दाने काली मिर्च और थोड़ी सी मिश्री-इन दोनों को दूध में मिलाकर सोते समय रात को पी लें। आराम मिलेगा।
  19. पेशाब की कड़क तथा जलन – ताजे करैले को महीन-महीन काट कर उसका पानी इकट्ठा करके दिन में तीन बार थोड़ा-थोड़ा पीने से पेशाब की कड़क एवं जलन ठीक हो जाती है।
  20. टान्सिल बढ़ जाने पर, गले में दर्द होने पर गर्म पानी में फिटकरी, नमक डालकर, गरारे करने से शीघ्र लाल होता है।
  21. जुओं को समाप्त करने के लिए सर धोने के बाद अन्त में नींबू का रस मिले पानी से सिर धोयें, जुएं मर जायेंगे।
  22. आधा सिरदर्द में सोंठ पीसकर देशी घी में भूने तथा कपड़े में बांधकर सूंघें।
  23. सिरदर्द – सोंठ को बहुत महीन पीसकर बकरी के शुद्ध दूध मंे मिलाकर नाक से बार-बार खींचने से सभी प्रकार के सिरदर्द में आराम मिलता है।
  24. मधुमेह – मेथी के प्रयोस से मधुमेह में कमी आती है।
  25. नेत्र रोग – तुलसी के पत्ते के रस में शहद मिलाकर आंख में लगाने से आंख में लाभ होगा।

Also Read : स्वास्थ्य को बेहतर बनाये रखने के उपाय – Health Tips


आपको यह लेख स्वास्थ्य को बेहतर बनाये रखने के उपाय – Health Tips in Hindi कैसा लगा, कृप्या कमेंट बाक्स पर साझा करें। अगर आपके पास विषय से जुडी और कोई जानकारी है तो हमे kadamtaal@gmail.com पर मेल कर सकते है |

आपके पास यदि Hindi में कोई health related article, story है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें. हमारी Email Id है: kadamtaal@gmail.com. हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ प्रकाशित करेंगे |

Random Posts

  • Malik Mohammad Jayasi कुरूपता | मलिक मुहम्मद जायसी

    कुरूपता | Malik Mohammad Jayasi Hindi Story मलिक मुहम्मद जायसी (Malik Mohammad Jayasi) (सन् 1475-1542 ई.) भक्तिकालीन हिन्दी-साहित्य के महाकवि थे। वे निर्गुण भक्ति की प्रेममार्गी शाखा के सूफी कवि […]

  • Ramayana Indonesia इण्डोनेशिया में रामायण (Ramayana in Indonesia)

    इण्डोनेशिया में रामायण (Ramayana in Indonesia) in Hindi इण्डोनेशिया में भारतीय शासक ‘अजी कका’ (78 ई.) के समय में संस्कृृत भाषा तथा ‘पल्लव’ एवं ‘देवनागरी’ लिपि के प्रयोग के प्रणाम मिलते […]

  • अनजाने पाप

    अनजाने पाप कपिल वर्मा धीरे-धीरे सड़क पार कर रहे थे, चारों तरफ इतनी भीड़ थी कि सड़क पार करना कठिन था आज वर्मा जी को बहुत समय बाद इस क्षेत्र […]

  • gandhi ansuni kahani गांधी जी के हनुमान | एक अनसुनी कहानी

    गांधी जी के हनुमान | एक अनसुनी कहानी 1926 के पूरे सालभर गांधी जी ने साबरमती और वर्धा-आश्रम में विश्राम किया। उसके बाद वे देश भर में भ्रमण के लिए […]

3 thoughts on “निरोग रहने हेतु दादी माँ के घरेलू नुस्खे – Home Remedies

  1. बहुत ही बढिया और उपयोगी घरेलू नुस्खों के बारे मेें आपने जानकारी दी हैं । ऐसे ही उपयोगी जानकारी शेयर करते रहिए । धन्यवाद ।

  2. गौरव गिरमे
    अहमदनगर
    श्रीरामपूर
    सर आपके पास सफेद डाग मिटने के घरेलू उपाय है ?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*
*