• Matlab Ka Pyar hindi kahani

    मतलब का प्यार Hindi Kahani

    मतलब का प्यार Matlab Ka Pyar Hindi Kahani शहर के एक परिवार ने गाय और उसका बछड़ा पाल रखा था। वह उनको रूखा-सूखा चारा खिलाता था तथा देर तक खुला भी नहीं छोड़ता था। एक दिन उस गाय का बछड़ा बहुत उदास था। वह माँ का दूध भी नहीं पी रहा था। गाय को चिंता हुई। उसने प्यार से बछड़े […]

  • hanuman ji ka ghamand

    हनुमान जी का घमण्ड चकनाचूर

    हनुमान जी का घमण्ड चकनाचूर, short story on Hanuman Ji Ka Ghamand Chaknachur in Hindi यह वाकया उस समय का है जब लंका तक जाने के लिए समुद्र पर सेतु बांधने की तैयारी चल रही थी। श्रीराम जी की इच्छा समुद्र सेतु पर शिवलिंग स्थापित करने की हुई। उन्होने हनुमान जी को बुलाया और कहा-‘मुहुर्त के भीतर काशी जाकर भगवान शंकर […]

  • दोस्ती

    सच्ची दोस्ती । डेमन और पीथियस की मित्रता

    सच्ची दोस्ती । डेमन और पीथियस की मित्रता True Friendship | Damon and Pythias story in Hindi दो घनीष्ठ मित्र थे-डेमन और पीथियस (Damon and Pythias)। उनकी दोस्ती की मिसाल पूरे क्षेत्र में दी जाती थी। एक दिन सिसली के सिरैक्यूज़ नगर के राजा डियोनिसविस ने राजशाही के विरूद्ध साजिश रचने के अपराध में डेमन को मृत्युदण्ड की आज्ञा दी। […]

  • sunhara newla

    सुपात्र को ही दान दें । शिक्षाप्रद पौराणिक कहानी

    सुपात्र को ही दान करें । शिक्षाप्रद पौराणिक कहानी यह महाभारत काल की पौराणिक कहानी है। युद्ध समाप्त हो गया था। महाराज युधिष्ठिर ने दो अश्वमेघ यज्ञ किये। उन यज्ञों के बाद उन्होने इतना दान किया कि उनकी ख्याती चारो दिशाओं मे फैल गयी। तीसरे यज्ञ के पूर्ण होने पर यज्ञशाला में एक अजीब सा नेवला आ गया जिसका कि आधा […]

  • वाल्मीकि

    वाल्मीकि । डाकू से महर्षि तक का सफर

    वाल्मीकि । डाकू से महर्षि तक का सफर महर्षि वाल्मीकि का पूर्व नाम रत्नाकर था। रत्नाकर का काम राहगीरों को लूट कर धन कमाना था। रत्नाकर जिस किसी को भी लूटता, वह व्यक्ति उसे रोता, गिड़गिड़ाता, भयभीत होता ही दिखता। आज उसने एक अजीब साधु देखा था, जो बिल्कुल भी नहीं डरा। इस साधु ने तो एक शब्द भी अपनी प्राणरक्षा […]

  • चूहा मनोरंजक कहानी

    बुद्धिमान चूहा और मुसीबत में बिल्ला | मनोरंजक कहानी

    बुद्धिमान चूहा और मुसीबत में बिल्ला | मनोरंजक कहानी एक जंगल के किसी पेड़ के नीचे बिल बनाकर एक बुद्धिमान चूहा रहता था। उसी पेड़ पर एक बिल्ला भी रहता था। जंगल में एक बार शिकारी ने डेरा डाल दिया। रोज शाम को वह जाल बिछा कर बड़े आराम से अपनी झोपड़ी में सो जाता था। रात में अनेक जीव […]