मोटापा कैसे दूर करें? How to Reduce Weight

मोटापा कैसे दूर करें?
How to Reduce Weight in Hindi?

how to reduce weight in hindi

मोटापा न तो स्वास्थ्य की दृष्टि से और व्यक्तित्व आकर्षण की दृष्टि से अच्छा होता है। मोटापा अपने साथ कई घातक बीमारियों को भी आमंत्रित करता है। हम नीचे आपको मोटापा के मूल कारण, उसकी रोकथाम और वजन घटाने के कुछ practical tips दे रहे हैं जिसका पालन करने पर आपको मोटापा के रोकथाम में सहायता मिलेगी और आपका शरीर सुंदर, स्वस्थ और कांतिमय लगेगा।

मोटापा का कारण और दुष्परिणाम 

अधिक वजन (high weight) एक प्रकार का रोग है, इसके होने के दो कारण हैं, एक है-आनुवंशिक और दूसरा कारण है आरामतलब दिनचर्या। जिनके माता-पिता मोटे होते हैं, उनकी संतान, प्रायः मोटी होती है। दूसरा कारण है-भूख अधिक लगना, शारीरिक श्रम न करना, आरामतलब दिनचर्या।

बचपन और किशोर अवस्था में दौड़-भाग, खेल-कूद की अधिकता होती है। इस कारण शरीर में फालतू चर्बी जमा नहीं हो पाती है। जो लोग उम्र के बढ़ने पर शारीरिक मेहनत नहीं करते और अधिक कैलोरी वाला भोजन लेते हैं, उनके शरीर में चर्बी जमा होने लगती है। उनको चलने-फिरने में दिक्कत आने लगती है अर्थात जल्दी थकान हो जाती है। खून का दौरा धीमा पड़ जाता है। नसों में कलोस्ट्रोल जमने लगता है। इस कारण उच्च रक्तचाप (high blood pressure) और हृदय रोग (heart disease) होने की सम्भावना बढ़ जाती है। शारीरिक गतिविधि कम होने के कारण कब्ज की शिकायत होने लगती है। अपच और मधुमेह (diabetes) की सम्भावना भी बढ़ जाती है। मोटापे (fat) से शरीर बैड़ोल हो जाता है। अतः मोटापा (fat) शुरू होते ही इसको दूर करने के उपाय शुरू कर देने चाहिए।

मोटापा दूर करने के उपाय – Fat reducing tips

मोटापा दूर करने (reducing fat ) या इससे बचने के दो मुख्य उपाय हैं- पहला है-भोजन सुधार और दूसरा है-अपनी दिनचर्या में शारीरिक श्रम को जोड़ना। मोटापा कम करने के लिए आप निम्न उपाय अपना सकते हैंः-

  1. आप सुबह जल्दी उठें।
  2. उठकर कम से कम एक गिलास पानी पियें।
  3. नित्य तीन-चार किलोमीटर तेज चाल से टहलें। यदि बाहर टहलना किसी कारण से सम्भव नहीं है तो आप घर में व्यायाम करें।
  4. ध्यान रखें वजन कम करने के चक्कर में अधिक साहसी एवं सहनशील न बनें। थकावट होने पर आराम करें।
  5. जिन पद्रार्थों में कोर्बोहाइड्रेट अधिक हो उनका सेवन न करें जैसे-आलू, मिठाईयां, खटाई, चटपटे एवं नमकीन भोजन न लें।
  6. अधिक तेल, घी से बनी चीजें न खायें। उदाहरणतः- मसालेदार, तली हुई वस्तुएं, पूरी, कचैड़ी, भूटरे आदि
  7. मोटापा कम करने (loosing weight) के लिए भोजन में चावल-रोटी कम खायें और सब्जी, कच्चा सलाद और सूप को अधिक लें।
  8. अनियमित भोजन न करें। यह मोटापा के साथ-साथ स्वास्थ्य के लिए अन्य रूप से भी हानिकारक है। निश्चित समय पर, दिन में तीन बार उतनी ही मात्रा में भोजन करें, जितना आवश्यक हो।
  9. बासी खाना बिल्कुल न खायें।
  10. चाय, काॅफी, धूम्रपान, शराब एवं अन्य मादक द्रव्यों से परहेज करें।
  11. चाय के स्थान पर आप ग्रीन टी का उपयोग कर सकते हैं।
  12. मलाई उतरे दूध के मट्ठे में अजवाइन और काला नमक डालकर नियमित रूप से सेवन करें।
  13. आप खूब पानी पीयें।
  14. रात का भोजन सोने से लगभग 2 घंटे पहले कर लें।
  15. भोजन न तो अधिक मात्रा में, न ही कम मात्रा में होना चाहिए। कई लोग वजन कम करने के लिए कम मात्रा में खाने लगते हैं अथवा अनावश्यक अधिक डायटिंग (unnecessary dieting) करते रहते हैं। यह तरीका बिल्कुल ठीक नहीं है।
  16. दिन में आराम न करें।
  17. क्रोध, चिन्ता और शोक-ये स्वास्थ्य का नाश कर देते हैं। किसी भी प्रकार के मानसिक तनाव, पारिवारिक कलह और दोहरी जीवनशैली से आप परहेज करें।

Also Read : पानी भी एक दवा है – इसके चमत्कार देखें


आपको यह health tips मोटापा कैसे दूर करें? How to Reduce Weight in Hindi? कैसा लगा, कृप्या कमेंट बाक्स पर साझा करें। अगर आपके पास विषय से जुडी और कोई जानकारी है तो हमे kadamtaal@gmail.com पर मेल कर सकते है |

आपके पास यदि Hindi में कोई health tips related articles है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें. हमारी Email Id है: kadamtaal@gmail.com. हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ प्रकाशित करेंगे |

Random Posts

  • गलत मान्यतायों का तिरस्कार हो

    गलत मान्यतायों का तिरस्कार हो कई पुरानी मान्यतायें हमें जीवन से, मूल सिद्वांत से भ्रमित कर देती हैं या हमारे भाग्य में पाप अनजाने में बढा़ देती हैं। दहेज भी ऐसी एक मान्यता रही जो कि अब काफी हद तक कम हो गई है। इस मान्यता की वजह से गरीब घर की कई लड़कियां तो पूरी जिन्दगी कुंवारी ही रह […]

  • Malik Mohammad Jayasi Hindi story कुरूपता | Malik Mohammad Jayasi

    कुरूपता | Malik Mohammad Jayasi Hindi Story मलिक मुहम्मद जायसी (सन् 1475-1542 ई.) भक्तिकालीन हिन्दी-साहित्य के महाकवि थे। वे निर्गुण भक्ति की प्रेममार्गी शाखा के सूफी कवि थे। उन्होंने कई ग्रन्थों की रचना की। अवधी भाषा में लिखा हुआ उनका ‘पद्मावत’ ‘Padmawat’ नामक ग्रन्थ विशेष प्रसिद्ध है। उन्होंने जगत् के समस्त पदार्थों को ईश्वरीय छाया से प्रकट हुआ माना है। उनकी […]

  • health tips in hindi स्वास्थ्य को बेहतर बनाये रखने के उपाय – Health Tips

    स्वास्थ्य को बेहतर बनाये रखने के उपाय – Health Tips in Hindi रोज सूर्योदय से पहले उठें। स्वास्थ्य की रक्षा के लिये जल का महत्वपूर्ण स्थान है। सोकर उठते ही स्वच्छ जल पीना स्वास्थ्य के लिए बड़ा ही हितकारी होता है। पेशाब-पाखाने को कभी न रोकें। पेट में मल जमा न होने दें। प्रतिदिन प्रातः स्नान करें। प्रातः कम-से-कम 10 […]

  • जीवन की सार्थकता दूसरों के लिए जीने में है

    एक बार एक राजा ने राजमार्ग पर एक विशाल पत्थर रखवा दिया। फिर वह छिपकर बैठ गया, यह देखने के लिए कि कोई उसे उठाता है या नहीं। मार्ग में पड़े उस पत्थर उस मार्ग से निकलने वाले, कई धनी सेठों ने, दरबारियों ने भी देखा परन्तु राजमार्ग को बाधारहित करने के लिए, किसी ने भी कुछ नहीं किया, सब […]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*
*