औषधि के रूप में दूध का महत्व

औषधि के रूप में दूध का महत्व Importance of Milk as a Medicine in Hindi

भारतवर्ष में गाय के दूध को औषधीय गुण (Medicine) आति प्राचीनकाल से जाना जाता है। चिकित्सकीय दृृष्टिकोण से दूध बहुत महत्वपूर्ण है। यह शरीर के लिये उच्च श्रेणी का खाद्य आहार है।milk medicine

दूध प्रोटीन, विटामिन, कार्बोहाइड्रेट्स, खनिज, वसा, इन्जाइम तथा आयरन से युक्त होता
है। दूध में प्रोटीन और कैलशियम तत्वों की अधिकता होने से यह दूधिया होता है। मानव-जाति के लिये यह सम्पूर्ण भोजन माना जाता है। दूध (Milk) को बार-बार नहीं उबालना चाजिए, ऐसा करने से उसमें मौजूद पोषिक तत्वों में कमी आ जाता है।

Also Read : पानी भी एक दवा है – इसके चमत्कार देखें 

एक स्वस्थ व्यक्ति के लिए दूध (Milk) जितना उपयोगी है उससे अधिक रोगी के लिए तथा उससे भी अधिक छोटे बच्चों और वृद्धों के लिए लाभकारी है। उचित मात्रा में पिया गया दूध जल्दी पच जाता है तथा शक्ति और स्वास्थ्य प्रदान करता है। जो व्यक्ति बचपन से वृद्धावस्था तक दूध का सेवन करता है वह सदैव शक्तिशाली, बलवान, निरोगी और दीर्घजीवी होता है।

Motivational stories in Hindi

चिकित्सक सभी आयु वर्ग के लिये इसे पौष्टिक भोजन के रूप में निम्न कारणों से सेवन करने की सलाह देते हैं:-

  • प्रकृति में उपलब्ध द्रव्यों-पदार्थों में केवल दूध में शुगर लैक्टोज होता है।
  • प्राणियों में मसल्स और बुद्धि के विकास के लिये दुग्ध-शर्करा बहुत आवश्यक है।
  • शारीरिक क्रियाकलापों के लिये कार्बोहाइड्रेट आवश्यक होता है।
  • शरीर में लाल कोषिकाओं के समन्वय एवं शारीरिक शक्ति के सुधार के लिये आयरन आवश्यक है।
  • कैलशियम और फाॅस्फोरस दांतों और हड्डियों को मजबूत रखने में सहायक होते हैं।
  • विटामिन ‘ए’ आंख की रोशनी और त्वचा को स्वस्थ रखता है एवं कम्पन रोग को हटाता है।
  • विटामिन ‘बी’ नाडी-मण्डल एवं शरीर के विकास के लिये आवश्यक है।
  • विटामिन ‘सी’ शरीरिक रोगों के प्रति प्रतिरोधक शक्ति पैदा करता है।
  • विटामिन ‘डी’ सूखे रोगों से सुरक्षा प्रदान करता है।

दूध के नियमित उपयोग की अनुशंसा निम्न कारणों से भी की जाती है।

  • रात्रि में सोने से पहले एक कप दूध का सेवन रक्त के नव-निर्माण में सहायक होता है एंव विषैले पदार्थों को निःसक्रिय करता है।
  • प्रातःकाल हलके गरम दूध का सेवन पाचन क्रिया को संयोजित करने में सहायता करता है।
  • गरम दूध में मिश्री और काली मिर्च मिलाकर लेने से सर्दी-जुकाम ठीक हो जाता है।
  • दूध (Milk) में सबसे कम कोलेस्ट्राॅल होने के कारण शुगर रोगियों को वसारहित दूध सेवन की सलाह दी जाती है।
  • उच्च रक्तचाप से पीडित व्यक्ति को प्रतिदिन कम से कम 200 मी.ली.दूध पीने की सलाह दी जाती है।
  • पेप्टिक अल्सर के रोगियों के लिये दूध एक आदर्श आहार है। 50 मि.ली. ठंडे दूध में एक चम्मच चने का सत्तू दो-दो घंटे पर देने से अल्सर में शीघ्र ही लाभ हो जाता है।
  • दूध के सेवन से मानसिक शुद्धि एवं बौधिक विकास होता है।

आपको यह लेख औषधि के रूप में दूध का महत्व Importance of Milk as a Medicine in Hindi  कैसा लगा, कृप्या कमेंट बाक्स पर साझा करें। अगर आपके पास विषय से जुडी और कोई जानकारी है तो हमे kadamtaal@gmail.com पर मेल कर सकते है |

आपके पास यदि Hindi में कोई article, story, essay, poem है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें. हमारी Email Id है: kadamtaal@gmail.com. हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ प्रकाशित करेंगे |

Random Posts

  • सच की जीत सच की जीत

    सच की जीत – Inspirational story of Sadhu in Hindi एक गाँव में एक साधु (sadhu) रहता था। उसके उत्तम आचरण के कारण गाँव के सभी लोग उसका सम्मान (respect) तथा उसकी सेवा करते थे, किंतु एक दिन स्थिति बदल गयी। सारे गाँव के लोग उस नवयुवक साधु (sadhu) पर टूट पड़े। उन्होंने कुटी में आग लगा दी, उसका सामान […]

  • injustice अन्याय का कुफल

    अन्याय का कुफल Impact of Injustice, a short inspirational story in Hindi दो व्यापारी मित्र थे। एक का नाम था धर्मबुद्धि, दूसरे का दुष्टबुद्धि। वे दोनों एक बार व्यापार करने विदेश गये और वहाँ से दो हजार अशर्फियाँ कमा लाये। अपने नगर में आकर सुरक्षा के लिये उन्हे एक वृक्ष के नीचे गाड़ दिया और केवल सौ अशर्फियों को आपस में बाँटकर […]

  • sati savitri सती सावित्री (Sati Savitri)

    सती सावित्री Story Sati Savitri and Satyavan in Hindi मद्रदेश के राजा अश्वपति धर्मात्मा एवं प्रजापालक थे। उनकी पुत्री का नाम सावित्री था। सावित्री जब सयानी और विवाह योग्य हो गयी तब राजा ने उससे कहा-पुत्री! तू अपने योग्य व स्वयं ढूंढ ले। तेरी सहायता के लिए मेरे वृद्ध मंत्री साथ जायेंगे। सवित्री ने संकोच के साथ पिता की बात […]

  • greed Hindi लालच बुरी बला है (Greed is the root of all evils)

    Greed is the root of all evils (Short inspirational story) किसी गांव में हरिदत्त नाम का एक ब्राह्मण रहता था। वह जीविका चलाने के लिए खोती करता था, परंतु इसमें उसे कभी लाभ नहीं होता था। एक दिन दोपहर में धूप से पीड़ित होकर वह अपने खेत के पास स्थित एक वृक्ष की छाया में विश्राम कर रहा था। सहसा उसने […]

  • अनजाने पाप

    कपिल वर्मा धीरे-धीरे सड़क पार कर रहे थे, चारों तरफ इतनी भीड़ थी कि सड़क पार करना कठिन था आज वर्मा जी को बहुत समय बाद इस क्षेत्रा में आना हुआ था। शौरूम में कदम रखते ही, सभी कर्मचारियों की निगाहें उनकी तरफ उठ गई। शौरूम के मालिक मोहन अपनी कुर्सी से उठकर उनके स्वागत के लिए आगे बढ़ गए। […]

  • हमारे वैज्ञानिकः केदारेश्वर बनर्जी (Kedareswar Banerjee)

    Story of our Great Scientist Professor Kedareswar Banerjee in Hindi प्रोफेसर केदारेश्वर बनर्जी का जन्म 15 सितम्बर 1900 सथल (पबना), विक्रमपुर, ढाका (अब बंग्लादेश) में एक ब्राह्मण परिवार में हुआ था। उनकी स्कूली शिक्षा ढाका में हुई। आगे की पढाई के लिए वे कलकत्ता चले गये जहां से उन्होनें विज्ञान के क्षेत्र में डाॅक्टरेट की डिग्री हासिल की। उन्हें 1930 में […]

  • kadamtal भिखारी की ईमानदारी

    भिखारी की ईमानदारी Motivational Story of Beggar’s Honesty in Hindi पिछले कुछ दिनों से हमारे दरवाजे पर एक लंगड़ा भिखारी (beggar) आने लगा था। शुरू में हम उसे कभी पैसे, कभी आटा और कभी चावल आदि दे दिया करते थे, किंतु जब उसने प्रतिदिन हमारे दरवाजे पर धरना देना शुरू कर दिया और बिना कुछ पाये वह टलने का नाम […]

  • old treatment प्राचीन चिकित्सा पद्धति हिलियोथेरपी

    प्राचीन चिकित्सा पद्धति हिलियोथेरपी Ancient Heliotherapy  treatment in Hindi कई प्राचीन संस्कृतियों में हिलियोथेरेपी (Heliotherapy) से ईलाज किया जाता था, जिसमें प्राचीन ग्रीस, मिस्त्र और प्राचीन रोम के लोग शामिल है। इंका, असीरियन और शुरूआती जर्मन लोग भी सूर्य की स्वास्थ्य के देवता के रूप में पूजा करते थे। प्राचीन भारतीय साहित्य में भी 1500 ईसा पूर्व जड़ी बूटियां और […]

  • नैतिक शिक्षा की अनिवार्यता

    आज के बदलते दौर में बहुत कठिन है किसी की सोच को आसानी से परिवर्तित कर देना। आधुनिकतावाद ने इतनी सारी नई-नई वस्तुओं का, आदमी को भोगी बना दिया है। इन भोग विलास की वस्तुओं की सुविधायें बटोरने में ही उसकी आयु का लम्बा समय निकल जाता है या निकल रहा है। सरल है बचपन से अच्छे विचारों की आदत […]

  • kadamtal उद्यम (Effort)

    उद्यम (Effort) – Story Inspirational Story on Effort एक दिन विंध्याचल प्रदेश के राजा के दरबार में तीन व्यापारी आए और राजा से बाले, महाराज! हम रत्नों के व्यापारी हैं, व्यापार के लिए आपके राज्य में आ रहे थे कि रास्ते में डाकुओं ने हमें लूट लिया। हमारे पास भोजन लायक भी पैसा नहीं हैं, आप कुछ सहायता करें। व्यापारियों […]

7 thoughts on “औषधि के रूप में दूध का महत्व

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*
*