सच्चाई हर जगह चलती है

सच्चाई हर जगह चलती है – Short Hindi stories

देशबन्धु चित्तरंजनदास जब छोटे थे, तब उनके चाचा ने उनसे पूछा-‘तुम बड़े होकर क्या बनना चाहते हो।’

‘मैं चाहे जो बनूं, किन्तु वकीन नहीं बनूंगा’-चित्तरंजन ने उत्तर दिया।

चाचा फिर बोले-‘ऐसा क्यों, भला।’

‘वकालत करने वालों को कदम-कदम पर झूठ बोलना पड़ता है। बेईमानों का साथ देना पड़ता है।’-चित्तरंजन ने कहा।

परन्तु भाग्य की विडम्बना देखिये कि चित्तरंजन दास बड़े होकर वकील हो गये। किन्तु उनकी वकालत दूसरों से भिन्न थी। वे झूठे मुकदमे कभी नहीं लेते थे। वे पारिश्रमिक भी जितनी मेहनत करते उतनी ही लेते। उनकी योग्यता का लाभ दीन-हीन, असहाय एवं देशभक्त ही उठाते। कभी-कभी वे गरीबो की पैरवी वे निःशुक्ल की कर दिया करते थे। जो भी मुकदमा लेते, उसमें पूरी रुचि दिखाते तथा सम्बन्धित व्यक्ति को जिताने का हरसंभव प्रयास करते।

इस प्रकार चित्तरंजनदास ने यह सिद्ध कर दिया कि वकालत जैसा व्यवसाय भी सत्य, न्याय तथा ईमानदारी के साथ सम्पन्न किया जा सकता है।

Also Read : गांधी जी के हनुमान


आपको यह कहानी सच्चाई हर जगह चलती है – Short Hindi stories  कैसी लगी, कृप्या कमेंट बाक्स पर साझा करें।

आपके पास यदि Hindi में कोई short hindi stories  है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ kadamtaal@gmail.com पर E-mail करें. हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ प्रकाशित करेंगे|2016

Random Posts

  • flop life फ्लोप लाइफ (Flop Life)

    फ्लोप लाइफ (Flop Life) in Essay आपने दूरदर्शन (Television) पर स्व. जसपाल भट्टी (Jaspal Bhatti) का फ्लोप शौ (Flop Show) देखा ही होगा, ऐसे में मेरी कल्पना में राजेश की फ्लोप लाइफ (Flop Life) है जो कहानी का नायक है। जैसा कि हमारी ज्यादातर हिन्दी फिल्मों का नायक बड़ी जटिल परिस्थितियों में बाल अवस्था बिताता है और बड़ा होकर एक […]

  • failure quotes hindi असफलता पर अनमोल विचार

    असफलता पर अनमोल विचार Failure Quotes in Hindi  हर व्यक्ति को खुले दिल से विफलता  (failure)को स्वीकार करना चाहिए। हम विफलता से ही सीखते हैं। दुनिया के सफलतम लोगों को विफलता जैसे कठिन मार्ग ने ही राह दिखाया है।  कभी भी सफलता को अपने दिमाग पर हावी मत होने दो तथा विफलता को दिल से मत लगाओ। Never let success […]

  • संस्कार

    संस्कार Our Traditional Ethics in Hindi हमारे जीवन में हजारों पुराने व नये संस्कार (Traditional Ethics) होते हैं। जो बनते और समाप्त होते हैं। हर व्यक्ति के अपने-अपने संस्कार होते हैं। कुछ संस्कार अन्तिम समय तक हमारे साथ ही चलते हैं और कुछ अगले जन्म तक साथ आत्मा के साथ जाते हैं। संस्कारों की जीवन में भूमिका संस्कारों (Traditional ethics) की […]

  • Ramayana Indonesia इण्डोनेशिया में रामायण (Ramayana in Indonesia)

    इण्डोनेशिया में रामायण (Ramayana in Indonesia) in Hindi इण्डोनेशिया में भारतीय शासक ‘अजी कका’ (78 ई.) के समय में संस्कृृत भाषा तथा ‘पल्लव’ एवं ‘देवनागरी’ लिपि के प्रयोग के प्रणाम मिलते हैं। बाद में यह ‘कवि-भाषा’ के रूप में विकसित हुई। राम-कथा के आगमन की तिथि पर विवाद हो सकता है, किंतु सातवीं शताब्दी के प्रम्बनान के शिव-मन्दिर पर शिलोत्कीर्ण राम-कथा […]

2 thoughts on “सच्चाई हर जगह चलती है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*
*